UPSC मॉक इंटरव्यू में पूछा, पुलिस के लिए लोगों में डर ज्यादा और आदर क्यों है कम? मनोज ने दिया ये जवाब

2


नई दिल्ली:

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 2020 का परिणाम 24 मार्च को घोषित कर दिया था. जो उम्मीदवार इस परीक्षा में पास हुए हैं वह इंटरव्यू में शामिल होंगे.

UPSC इंटरव्यू जिसे पर्सनालिटी टेस्ट (PT) के तौर पर भी जाना जाता है. ये इंटरव्यू 26 अप्रैल से 18 जून तक चलेंगे. इस इंटरव्यू में 2046 उम्मीदवार शामिल होंगे.

बता दें, फाइनल इंटरव्यू देने से पहले उम्मीदवार मॉक इंटरव्यू देते हैं. मॉक इंटरव्यू  में उम्मीदवारों को इंटरव्यू  देने की अच्छी प्रैक्टिस हो जाती है. वहीं वह जान भी लेते हैं उन्होंने इंटरव्यू  के दौरान क्या गलतियां की, जिसे वह फाइनल इंटरव्यू में  ना दोहराएं.

आज हम आपको मनोज कुमार रावत के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंमे यूपीएससी 2019 परीक्षा में 544 रैंक हासिल की थी. मनोज कुमार रावत से इंटरव्यू में सवाल पूछा गया, “पुलिस के  लिए लोगों में डर ज्यादा है और आदर कम है. बताइए इसका क्या कारण है?

इस पर मनोज ने जवाब देते हुए कहा,  “अब ऐसा नहीं है. मुझे लगता है अब पुलिस पीपुल फ्रेंडली हो रही है. लेकिन ये भी सच है कुछ गरीब और पिछड़े वर्गों के लोगों के मन में ऐसी धारणा है, जिन्हें लगता है कि पुलिस हमारा साथ नहीं देगी. उन्हें लगता है पुलिस बड़े लोगों की है, हमारी नहीं है.”

बोर्ड मेंबर ने कहा, मनोज कुमार का इंटरव्यू काफी अच्छा रहा, लेकिन उन्हें बोर्ड मेंबर की ओर से कई फीडबैक भी मिले. बोर्ड मेंबर के एक सदस्य ने मनोज से कहा, वह उनके हेयर स्टाइल से खुश नहीं है, बाल काफी बिखरे- बिखरे लग रहे हैं. उन्होंने कहा, मैं आपको कोई सलाह नहीं दे रहा हूं, पर आप अपने बालों की ओर जरूर ध्यान दीजिए.

एक बोर्ड मेंबर ने कहा, हम आपके इंटरव्यू से खुश है, लेकिन आपको बताना चाहेंगे कि जिस सवाल का जवाब आपको नहीं आता है, उसका जवाब गलत देने की कोशिश न करें. आप सीधा बोल दें, कि आप सवाल का जवाब नहीं जानते हैं. इससे आपकी बोर्ड मेंबर में गलत छवि नहीं बनेगी.



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •