15.1 C
Delhi
Wednesday, February 8, 2023

“गलत मिसाल” : बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर कांग्रेस नेता एके एंटनी के बेटे ने जताया ऐतराज

Must read


अनिल एंटनी का कमेंट, केरल में कांग्रेस पार्टी के रुख के विपरीत है

नई दिल्‍ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी BBC की डॉक्‍यूमेंट्री को लेकर उठे विवाद के बीच बीजेपी को मंगलवार को ‘अप्रत्‍याशित वर्ग’ का समर्थन मिला. कांग्रेस के दिग्‍गज नेता और केरल के पूर्व सीएम एके एंटनी के बेटी अनिल एंटनी (Anil K Antony)ने डॉक्‍यूमेंट्री को लेकर ऐतराज जताया है. इस मसले पर अपनी पार्टी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के रुख से अलग राय जताते हुए अनिल एंटनी ने ट्वीट में लिखा, ” ब्रिटिश ब्रॉडकास्टर के विचारों को भारतीय संस्थानों पर तरजीह देना, देश की संप्रभुता को ‘कमजोर’ करेगा”

यह भी पढ़ें

NDTV से बात करते हुए अनिल एंटनी ने कहा, “उन्हें राहुल गांधी सहित कांग्रेस पार्टी में किसी के भी साथ “कोई समस्या नहीं” है, लेकिन “हमारी आजादी के 75 वें वर्ष में, हमें विदेशियों या उनके संस्थानों को हमारी संप्रभुता को कम करनेकी इजाजत नहीं देनी चाहिए.” उनका यह बयान उसी दिन आया है जब राहुल गांधी ने अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान जम्‍मू में संवाददाताओं से बात करते हुए देश में डॉक्यूमेंट्री को ऑनलाइन शेयर करने से रोकने के सरकार के प्रयासों पर सवाल उठाए थे.राहुल ने कहा था,  ‘‘अगर आप हमारे वेदों को पढ़ेंगे, भगवद् गीता या उपनिषदों को पढ़ेंगे तो आप देखेंगे कि वहां लिखा है कि सच को छिपाया नहीं जा सकता. सत्य हमेशा सामने आता है.”उन्होंने कहा था, ‘‘इसलिए आप प्रेस पर पाबंदी लगा सकते हैं, उसे दबा सकते हैं, आप संस्थानों को नियंत्रित कर सकते हैं, आप सीबीआई, ईडी आदि सब का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन सच तो सच है. सच अलग चमकता है इसलिए किसी पाबंदी, दमन और लोगों को धमकाने से सच सामने आने से नहीं रुकेगा.”

कांग्रेस की केरल इकाई के डिजिटल संचार को संभालने वाले अनिल एंटनी का यह कमेंट, केरल में पार्टी के रुख के विपरीत है जहां पार्टी की विभिन्न इकाइयों ने 2002 के गुजरात दंगों पर बीबीसी की विवादित डॉक्‍यूमेंट्री की वृत्तचित्र की स्क्रीनिंग की घोषणा की थी. गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी की आलोचना वाली बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री शेयर करने वाले ट्वीट ब्लॉक करने का आदेश दिया था. बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री के YouTube के लिंक जिन ट्वीट के जरिए शेयर किए गए हैं, उनको भी ब्लॉक कर दिया गया है. विदेश मंत्रालय ने इस डॉक्‍यूमेंट्री को ऐसे दुष्‍प्रचार का हिस्‍सा बताया था जो औपनिवेशक मानसिकता को दर्शाता है. 

ये भी पढ़ें-

Featured Video Of The Day

‘मंजुलिका’ की तरह ड्रेस पहनकर महिला ने नोएडा में मेट्रो यात्रियों को डराया





Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article