मुंबई में कोरोना के 10030 नए मामले आए सामने, एक दिन में सर्वाध‍िक मरीजों की मौत

0


प्रतीकात्मक तस्वीर.

मुंबई:

Mumbai Coronavirus Updates: मुंबई में एक दिन में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के 10,030 नए मामले सामने आने के बाद शहर में संक्रमितों की कुल संख्या 4,72,332 हो गई. वहीं, 31 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 11,828 हो गई. मुंबई में अक्टूबर के बाद से किसी एक दिन में मृतकों की यह सर्वाधिक संख्या है. बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) के आंकड़ों के अनुसार नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 4,72,332 हो गई जबकि मृतकों की संख्या 11,828 पर पहुंच गई. शहर में अब तक 3,82,004 मरीज ठीक हो चुके हैं और अभी 77,495 मरीज उपचाराधीन हैं.

यह भी पढ़ें

कोरोना ने फिर बढ़ाई चिंता : महाराष्ट्र में हालात हुए बेकाबू, कई राज्यों ने सख्त किए नियम, 10 बातें

 इस बीच महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिला प्रशासन ने बाहर से आने वालों के लिए आरटी-पीसीआर जांच कराना अनिवार्य कर दिया है. कोल्हापुर कलेक्टर दौलत देसाई ने मंगलवार को कहा, “जिले में कोविड-19 का प्रसार अभी कम है लेकिन पुणे, सांगली और सतारा जैसे पड़ोसी जिलों में संक्रमण के अधिक मामले सामने आ रहे हैं.” उन्होंने कहा कि जो लोग कोल्हापुर जिले में आना चाहते हैं उन्हें आगमन से 48 घंटे पहले आरटी पीसीआर जांच करानी होगी और ‘निगेटिव’ रिपोर्ट साथ लानी होगी. उन्होंने कहा कि टीके की दूसरी खुराक ले चुके लोगों के लिए यह अनिवार्य नहीं होगी.

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस (Coronavirus in Maharashtra) के 57,074 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 222 लोगों की मौत हुई है. राज्य में संक्रमण के कुल मामले 30,10,597 हो गए. अब तक कुल 55,878 मरीजों की मौत हुई है. 25,22,823 लोग ठीक हो चुके हैं. राज्य में कोविड के 4,31,896 एक्टिव केस हैं. कोरोना मामलों में महाराष्ट्र के बाद केरल (Kerala Covid-19) दूसरे स्थान पर है. वहां अब तक कुल 11,35,233 मामले सामने आ चुके हैं. इसके बाद कर्नाटक (Karnataka Covid-19) और चौथे स्थान पर आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh Covid-19) है.

महाराष्ट्र में सोमवार रात से लागू हुए लॉकडाउन के दायरे से पेट्रोल पंप, सरकारी एवं निजी सुरक्षा सेवाओं और फल विक्रेताओं को भी कड़े प्रतिबंध के दायरे से बाहर रखते हुए इन्हें आवश्यक सेवाओं की सूची में जोड़ दिया गया है. संशोधित दिशा-निर्देशों के अनुसार यह छूट दी गई है. हालांकि, सोमवार को जारी संशोधित आदेश में जिन प्रतिष्ठानों के कार्यालयों को संचालन की अनुमति दी गई है, उनके कर्मचारियों को जल्द से जल्द टीकाकरण कराना होगा.

लॉकडाउन ठीक है, लेकिन महाराष्ट्र सरकार को गरीबों की मदद करनी चाहिए : देवेंद्र फडणवीस

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए सप्ताहांत में शुक्रवार रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक लॉकडाउन लागू करने की रविवार को घोषणा की थी. साथ ही 30 अप्रैल तक रात्रिकालीन कर्फ्यू लागू करने की भी घोषणा की गई थी. ये सभी पांबदियां सोमवार से राज्य में लागू हो गईं.

इसके अलावा कोरोनावायरस के प्रसार की रोकथाम के मद्देनजर निजी कार्यालय, थियेटर और सैलून आदि बंद रखने जैसी कड़ी पाबंदियां भी लागू की गई हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में रविवार को कहा था कि सप्ताहांत में शुक्रवार रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक लॉकडाउन लागू रहेगा. इसके अलावा, सप्ताह के सभी दिनों में दिन के वक्त धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की जाएगी.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •