भारत में बेकाबू होता कोरोना: कई राज्यों में लगा नाइट कर्फ्यू, PM मोदी ने कहा- डरने की जरूरत नहीं, 10 बातें

0


Coronavirus Cases in India: टेस्टिंग सेंटर्स पर लंबी कतारें बढ़ा रही हैं चिंताएं

नई दिल्ली:
एक तरफ कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ वैक्सीन को लेकर केंद्र और राज्य की तकरार खुलकर सामने आ गई है. राज्यों के आरोप और केंद्र के जवाब के बीच पीएम मोदी ने गुरुवार शाम को अपने संबोधन में जिक्र करते गुए कहा कि भारत अपनी पूरी क्षमता से टीका के उत्पादन कर रहा है और जरूरत के हिसाब से राज्यों को दिया जाएगा. देश में तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों पर चिंता जताते हुए पीएम मोदी ने गुरुवार को कहा कि संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए फिर से युद्ध स्तर पर काम करना जरूरी हैय मुख्यमंत्रियों के साथ देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा करने के बाद अपने संबोधन में PM ने कहा कि देश ने पिछले साल बगैर टीके के कोविड-19 से लड़ाई जीती थी, इसलिए आज भयभीत होने की जरूरत नहीं है. दूसरी बड़ी चिंता ये है कि अब कोरोना की चपेट में डॉक्टर्स भी तेजी से आ रहा है. लखनऊ के KGM यूनिवर्सिटी में दर्जनों डॉक्टरों के संक्रमित होने के बाद अब सर गंगाराम अस्पताल में भी 37 डॉक्टरों की रिपोर्ट पॉजिटीव आई है. तो चलिए जानते हैं कोरोना संक्रमण से जुड़ी अब तक की 10 बड़ी अपडेट्स.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. महाराष्ट्र में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 56,286 नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 32,29,547 हो गए. इसके सवाथ ही 376 और लोगों की मौत होने से राज्य में मृतकों की संख्या 57,028 हो गई. इसके अलावा कर्नाटक में संक्रमण के 6,570, तमिलनाडु में 4,276, गुजरात में 4,021, पंजाब में 3,119 और हरियाणा में 2,872 नए मामले सामने आए हैं. 

  2. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल अपने संबोधन में कहा कि पिछले साल कोरोना की जो सर्वोच्च रफ्तार थी उसे हम इस बार पार कर चुके हैं. इस बार मामलों की वृद्धि दर पहले से भी ज्यादा तेज है. महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पंजाब, मध्य प्रदेश और गुजरात समेत कई राज्य पहली लहर की ”पीक” को भी पार कर चुके हैं. कुछ और राज्य भी इस ओर बढ़ रहे हैं. हम सबके लिए ये चिंता का विषय है. प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार लोग पहले की अपेक्षा बहुत अधिक लापरवाह हो गए हैं और अधिकतर राज्यों में प्रशासन भी सुस्त नजर आ रहा है. 

  3. पीएम मोदी ने कहा कि इन तमाम चुनौतियों के बावजूद देश के पास पहले की अपेक्षा बेहतर अनुभव और बेहतर संसाधन उपलब्ध हैं. उन्होंने कहा, ‘‘जनभागीदारी के साथ-साथ हमारे परिश्रमी चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मियों ने स्थिति को संभालने में बहुत मदद की है और आज भी कर रहे हैं. 

  4. प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार बहुत सारे मामले ऐसे हैं जो बिना लक्षण वाले हैं, इसलिए प्रशासन को अतिसक्रियता दिखाकर जांच में तेजी लानी होगी. उन्होंने कहा, ‘‘हम जितना ज्यादा चर्चा टीके की करते हैं, उससे ज्यादा फोकस जांच पर करना है. हम जांच को हल्के में ना लें. हर हाल में हमें इसे बढ़ाना होगा और पॉजिटिव रेट पांच प्रतिशत के नीचे लाकर दिखाना होगा.

  5. पीएम मोदी के संबोधन के बाद कर्नाटक में बेंगलुरु और 6 जिलों में नाइट कर्फ्यू लागू करने का आदेश दिया गया. यह नाइट कर्फ्यू रात 10 से सुबह 5 बजे तक रहेगा. आदेश के अनुसार शनिवार रात से यह कर्फ्यू प्रभावी रहेगा और 20 अप्रैल तक जारी रहेगा. मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के आदेश के अनुसार राजधानी बेंगलुरु के अलावा मैसूरु, मंगलुरु, कालाबुरागी, बीदर, तुमकुरु और उडुपी-मणिपाल में भी कर्फ्यू लगाया जाएगा.” आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. 

  6. जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए जम्मू और श्रीनगर समेत आठ जिलों के शहरी इलाकों में रात्रि कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया. 

  7. यह नाइट कर्फ्यू आज से प्रभावी होगा. यह कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक प्रभावी रहेगा. आदेश में मुताबिक जम्मू, उधमपुर, कठुआ, श्रीनगर, बारामुला, बड़गाम, अनंतनाग और कुपवाड़ा में रात्रि कर्फ्यू लागू होगा. 

  8. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य को एक सप्ताह की जरूरत के टीके पहले से ही उपलब्ध कराने और कोरोना वायरस संक्रमण के उपचार में उपयोग की जाने वाली दवाइयों एवं उपकरणों पर जीएसटी की दर कम करने की मांग की है. 

  9. दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के दो जिलों गौतम बुद्ध नगर और गाजियाबाद में कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. 

  10. भारत में प्रतिदिन कोविड-19 रोधी टीके की औसतन 34,30,502 खुराकें दी जा रही हैं, जिसके साथ ही देश रोजाना लगाए जाने वाले टीकों की संख्या के मामले में दुनियाभर में पहले स्थान पर पहुंच गया है.  

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •