Delhi-NCR में ऐसे कई फर्जी कॉल सेंटर पकड़े गए हैं (प्रतीकात्मक)

गौतमबुद्ध नगर:

गौतमबुद्द नगर पुलिस कमिश्नरी (Gautam Buddh Nagar police C ommissionerate)ने बीमा पॉलिसी (Insurance Policies) बेचने या रिन्यू के नाम पर ठगी करने वाले फर्जी कॉल सेंटर (Fake Call Centre) का भंडाफोड़ किया है. नोएडा पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर चलाकर इंश्योरेंस पॉलिसी बेचने और लैप्स पॉलिसी को रिन्यू और प्री मैच्योर बंद कर भारी धनराशि देने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. नोएडा पुलिस थाना फेस-3 की टीम ने दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. उनके कब्जे से 09 सीपीयू., 25 मोबाइल, 11 बेस फोन (सिम वाले) , 11 सिम कार्ड, 01 मोहर, 50 डायरी/नोट पेड/रजिस्टर व पॉलिसी से संबंधित अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं. यूपी पुलिस (UP Police) ने अन्य आरोपियों के खिलाफ भी धरपकड़ तेज कर दी है.

यह भी पढ़ें

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव से पहले जबरदस्त हिंसा, खुद जान बचाती दिखी पुलिस, देखिए VIDEO

दरअसल, 8 जुलाई को संजीव पुत्र वेद कुमार (सीनियर मैनेजर फ्रॉड कंट्रोल, पीएनबी मेटलाइफ इंश्योरेंस) पता प्लेटिनम टावर सेक्टर 47 सोहना रोड गुरुग्राम की लिखित तहरीर के आधार 20-30 अज्ञात लड़के/लड़कियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी. इसमें कहा गया था कि आरोपियों ने PNB Metlife India Insurance के नाम से सेक्टर -63 नोएडा में एच-150 की पहली मंजिल पर Nimbuzz Solutions फर्जी कॉल सेंटर खोल रखा है.

यहां PNB Metlife के नाम से धोखाधड़ी कर पॉलिसी बेचने और ठगी करने का धंधा चल रहा है. फर्जी कॉल सेंटर चलाने के आरोप में थाना फेस 3 पर मुकदमा पंजीकृत किया गया था. इसके बाद थाना फेस 3 नोएडा पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर चलाकर बीमा पॉलिसी बेचने और लैप्स पॉलिसी को रिन्यू व प्री-मैच्यो कर भारी धनराशि देने के नाम पर ठगी करने वाले दो 

आरोपियों को गिरफ्तार किया. इनमें एक शुभम राणा पुत्र पवन सिंह निवासी ग्राम सिवाया, थाना धौलाना, जिला हापुड़ और सत्यम पुत्र सन्तोष सिंह राजपूत निवासी ढ़लवाई, थाना जीरादेई, जिला सिवान, बिहार का है. उसका वर्तमान पता श्याम पार्क मोहननगर साहिबाबाद जनपद गाजियाबाद था.

आरोपियों के कब्जे से कॉल सेंटर में लगे 09 सीपीयू, 25 मोबाइल फोन, 11 बेस फोन (सिम वाले) , 11 सिम कार्ड, 01 मोहर, 50 डायरी/नोट पेड/रजिस्टर व पॉलिसी से संबंधित अन्य दस्तावेज बरामद किए गए हैं. कंपनी मालिक का नाम छत्रपाल उर्फ सिद्धार्थ शर्मा प्रकाश में आया है, जो अभी मौके से फरार है. उसकी गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here