प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने एक शख्स के कत्ल के मामले में 10 साल बाद उसकी पत्नी को अलवर से गिरफ्तार किया है. पति की हत्या के बाद उसके शव को 165 किलोमीटर दूर ठिकाने लगा दिया था. आरोपी महिला पर दिल्ली पुलिस ने 50 हज़ार का इनाम भी रखा हुआ था. क्राइम ब्रांच के ज्वाइंट सीपी आलोक कुमार के मुताबिक दिल्ली के रहने वाले रवि का कत्ल 22 मार्च 2011 में कापसहेड़ा में हुआ था. कत्ल के बाद 10 साल से लगातार उसकी पत्नी शकुंतला फरार चल रही थी और देश के अलग-अलग हिस्सों में छुप कर रह रही थी. 

यह भी पढ़ें

दरअसल, शकुंतला ने अपने प्रेमी कमल के साथ मिलकर अपने पति रवि की हत्या कर दी थी. कमल को तो दिल्ली पुलिस ने 2018 में गिरफ्तार कर लिया था लेकिन रवि की पत्नी शकुंतला पिछले 10 साल से फरार थी. क्राइम ब्रांच को खबर मिली थी कि शकुंतला राजस्थान के अलवर में कहीं रह रही है जिसके बाद अलवर से शकुंतला को गिरफ्तार कर लिया.

दिल्ली : नाराज प्रेमी ने महिला की गला रेतकर की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

गिरफ्तार शकुंतला ने पुलिस के सामने खुलासा किया कि साल 2011 में उसकी शादी रवि के साथ हुई थी लेकिन साथ ही कमल नाम के एक शख्स से उसके अवैध संबंध हो गए थे. इन अवैध संबंधों का पति रवि लगातार विरोध करता था. इसके बाद शकुंतला ने अपने प्रेमी कमल के साथ मिलकर एक साजिश रची और 22 मार्च 2011 को उनकी योजना के अनुसार शकुंतला ने रवि से अनुरोध किया कि वह उसे अपनी बहन के घर समालखा नई दिल्ली में ले जाए. कमल सिंगला और गणेश कुमार पहले से ही सैंट्रो कार में उनका इंतजार कर रहे थे. शकुंतला को उसकी बहन के घर के पास छोड़ने के बाद, कमल रवि को यह कहते हुए ड्राइव पर ले गया कि वह उससे अकेले में बात करना चाहता है. सुनसान जगह पर पहुंचकर कमल ने रवि का रस्सी से गला घोंट दिया. कमल और गणेश फिर शव को राजस्थान के अलवर के टपुकड़ा गांव ले गए और रवि के शव को एक खाली इमारत में ठिकाने लगा दिया.

मध्य प्रदेश: प्रेम में चोट खाये प्रेमी ने युवती सहित तीन लोगों की हत्या कर आत्महत्या की

2011 में ही आरोपियों ने उस जगह की दोबारा खुदाई की, जहां उन्होंने शव को ठिकाने लगाया था। वे शव के शेष हिस्सों को हरियाणा और राजस्थान के अलवर और रेवाड़ी जिले के बीच 70 किलोमीटर की सड़क पर फेंक देते हैं. पति की हत्या के बाद शकुंतला कमल के साथ रहने लगी. आखिरकार 2017 में उसने उससे शादी कर ली. कमल को अक्टूबर, 2018 में हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया और वह अलवर जेल में बंद है। इस मामले में उसके ड्राइवर गणेश को भी गिरफ्तार किया गया था जबकि शकुंतला फरार थी. शकुंतला को 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है.

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here