गुरुग्राम में Remdesivir इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

4


प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

Coronavirus: गुरुग्राम (Gurugram) ड्रग विभाग ने शनिवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए रेमडेसिविर (Remdesivir) इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया. यह गिरोह 4000 रुपये के इंजेक्शन को 25000 रुपये में बेच रहा था. कालाबाजारी करने वाले गिरोह के 3 लोगों को ड्रग विभाग ने रंगेहाथों पकड़ा. पकड़े गए तीन में से दो आरोपी गुरुग्राम के निजी मेडिकल स्टोर पर काम करते हैं. 

यह भी पढ़ें

गौरतलब है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन का कोरोना के इलाज के लिए इस्तेमाल होता है.  गुरुग्राम में लगातार कोरोना की रफ्तार तेज हो रही है. कोरोना के मामले रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं. देश भर समेत साइबर सिटी गुरुग्राम में हालात बद से बदतर होते जा रही हैं, लेकिन कुछ लोग इस महामारी के समय में भी कालाबाजारी कर अपनी जेब भरने में लगे हुए हैं. ऐसा ही एक मामला गुरुग्राम से सामने आया जहां कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाले रेमडेसिविर इंजेक्शन की धड़ल्ले से कालाबाजारी की जा रही थी. बहरहाल गुरुग्राम के ड्रग विभाग ने इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर 3 आरोपियों को रंगेहाथों पकड़ लिया.

दरअसल कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कुछ दवाइयां ऐसी हैं जो कोरोना से जिंदगी बचा सकती हैं लेकिन इन दवाइयों की कालाबाजारी की खबरें लगातार सामने आ रही हैं. कुछ लोग इंसान की सांस की कीमत को भूल कालाबाजारी करने में जुटे हुए हैं. इंजेक्शन रेमडेसिविर की कालाबाजारी की जा रही है. दरअसल गुरुग्राम ड्रग विभाग को सूचना मिली थी कि कुछ लोग रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहे हैं. इसके बाद विभाग ने अपनी टीम गठित की और कालाबाजारी करने वाले गिरोह के 3 लोगों को रंगे हाथों पकड़ लिया.

गुरुग्राम ड्रग विभाग के अधिकारी अमनदीप की मानें तो आरोपियों से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि यह इंजेक्शन दिल्ली के किसी सरकारी हॉस्पिटल से ला रहे थे जिसकी कीमत मात्र 4000 है और गुरुग्राम में इसे 25 हजार में बेच रहे थे. आरोपियों से पूछताछ में खुलासा यह भी हुआ है कि इससे पहले भी ये 3 से 4 बार इस इंजेक्शन की कालाबाजारी कर चुके हैं. इन तीनों आरोपियों में से दो आरोपी गुरुग्राम के निजी मेडिकल स्टोर में काम करते हैं और तीसरा आरोपी भी मेडिकल की लाइन से ही जुड़ा हुआ है. बहरहाल तीनों आरोपियों को पुलिस के हवाले कर दिया गया है जहां पुलिस भी इनसे गहनता से पूछताछ में जुट गई है.



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •