गाजियाबाद : मंदिर में पानी पीने पर पिटे नाबालिग की लोगों ने की आर्थिक मदद, 2 दिन में मिले 10 लाख

4


नाबालिग को पीटने के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था.

खास बातें

  • पानी पीने पर नाबालिग को पीटा था
  • पिटाई का वीडियो हुआ था वायरल
  • पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली:

देश की राजधानी नई दिल्ली से सटे गाजियाबाद (Ghaziabad) में एक मंदिर के अंदर पानी पीने को लेकर पीटे गए लड़के के लिए करीब 10 लाख रुपये जुटाए गए हैं. इसकी जानकारी शुक्रवार को लोगों से धन जुटाने वाले ऑनलाइन मंच केट्टो ने दी है. आपको बता दें कि केट्टो भारत में एक ऑनलाइन क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म है. केट्टो ने शुक्रवार को कहा कि उस लड़के के लिए 10 लाख रुपये जुटाए गए हैं, जिसकी पिटाई गाजियाबाद के एक मंदिर के अंदर पानी पीने के लिए कथित तौर पर की गई थी. 

यह भी पढ़ें

केट्टो ने अपने एक बयान में कहा कि तथ्यों की जांच-पड़ताल करने वाली वेबसाइट अल्ट न्यूज के एक सह-संस्थापक ने लड़के के परिवार को वित्तीय सहायता देने और उसकी शिक्षा के लिए धन जुटाने के इस अभियान को शुरू किया था.

मुस्लिम लड़के की पिटाई, तो एजाज खान ने कही यह बात…

जन वित्त पोषण के माध्यम से लगभग 648 लोगों के योगदान से सिर्फ दो दिनों में लगभग 10 लाख रुपये जुटाए गए हैं. गौरतलब है कि एक वीडियो में श्रृंगी नंदन यादव को लड़के से उसका नाम पूछते हुए देखा गया, जिसने कहा कि वह आसिफ है. वीडियो में आरोपी व्यक्ति पीड़ित का नाम पूछते हुए उससे धार्मिक स्थल में प्रवेश करने पर पूछताछ करता नजर आ रहा है. उसके तुरंत बाद, वह उसे गालियां देते हुए और उसकी पिटाई करते हुए दिखाई देता है. यह घटना कथित तौर पर डासना देवी मंदिर के पास हुई थी.

UP: मंदिर के अंदर पानी पीने गया मुस्लिम लड़का तो कर दी पिटाई, आरोपी गिरफ्तार

वीडियो सामने आने के बाद पिटाई करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया था. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने बताया था कि पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया, जिसकी पहचान शृंगी नंदन यादव के रूप में की गई है, जिससे पूछताछ की जा रही है. उन्होंने कहा कि इस प्रकार की हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

VIDEO: असम : गोमांस बेचने के शक में भीड़ ने बुजुर्ग को सड़क पर पीटा

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •