कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए अहमदाबाद में रात 9 से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लागू

3


लॉकडाउन के असर से उबर रही अर्थव्यवस्था, दूसरी तिमाही की जीडीपी में दिखेगा सुधार : इक्रा

कोरोनोवायरस मामलों में बढ़ोतरी को अधिकारियों ने त्योहार और मौसम को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि शहर के अस्पतालों में नए COVID-19 रोगियों को रखने के लिए पर्याप्त बेड हैं. अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव कुमार गुप्ता ने कहा कि अस्पतालों में कुछ 40 प्रतिशत बेड अभी भी कोरोनोवायरस रोगियों के लिए उपलब्ध हैं.

अहमदाबाद नगर निगम के अनुसार, बुधवार तक शहर के 14 इलाकों में छोटे कंटेनमेंट जोन्स की संख्या बढ़कर 100 हो गई. आवासीय क्षेत्रों और अलग-अलग अपार्टमेंट्स, जहां कोविड-19 केसों में बढ़ोतरी हुई है; उन इलाकों में कंटेनमेंट जोन्स लागू किया गया है.

देश में कोरोना के 94 फीसदी मरीज ठीक हुए, 5 फीसदी से कम मरीजों का ही चल रहा इलाज

बता दें कि गुजरात में बुधवार को कोरोना वायरस के 1,281 नए मामले सामने आए जिसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,91,642 हो गई. वहीं, राज्य में 1274 मरीज संक्रमण से मुक्त हुए. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग ने बताया कि बीमारी से आठ और व्यक्तियों की मौत होने के बाद राज्य में मृतकों की संख्या 3,823 हो गई.

विभाग ने एक विज्ञप्ति में कहा कि 1274 और मरीजों के स्वस्थ होने के साथ राज्य में ठीक हो चुके लोगों की संख्या 1,75,362 तक पहुंच गई है. वहीं, मरीजों के ठीक होने की दर भी बढ़ी है और यह 91.50 प्रतिशत हो गई है. राज्य सरकार ने कहा कि मामलों का जल्द से जल्द पता लगाने के लिए प्रतिदिन जांचों की संख्या में वृद्धि की जा रही है. राज्य में अब तक जांच किए गए नमूनों की कुल संख्या बढ़कर 69,78,249 हो गई है. विभाग ने बताया कि गुजरात में फिलहाल 12,457 मरीजों का इलाज चल रहा है.

दिल्ली में बढ़ते कोरोना केसों पर CM अरविंद केजरीवाल का आया बयान

सूरत में संक्रमण के सर्वाधिक 224 जबकि अहमदाबाद में 220 , राजकोट में 161, वडोदरा में 142 नए मामले सामने आए. वहीं अहमदाबाद में संक्रमण के कारण पांच मरीजों की मौत हो गई जबकि सूरत में दो और पाटन में एक संक्रमित की मौत हुई. (इनपुट भाषा से भी)



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •