कोरोना पीड़ितों की भर्ती के लिए इजाजत की प्रक्रिया खत्म करें, प्रियंका गांधी ने CM योगी को लिखी चिट्ठी

5


प्रियंका गांधी ने लिखा, ‘हम सबको राजनीति से ऊपर उठकर काम करने की जरूरत है’

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के बढ़ते मामलों की बीच उत्तर प्रदेश भी इस वायरस के संक्रमण से बेहाल है. राज्य में भी संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. इसे लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को चिट्ठी लिखी है. फिलहाल राज्य में कोरोना संक्रमितों को अस्पताल में दाख‍िल कराने के लिए सीएमओ की मंजूरी लेना अनिवार्य है. इस वजह से मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसी के मद्देनजर प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखकर सरकार से कोरोना पीड़ितों को अस्पताल में भर्ती करने के लिए CMO की अनुमति को तत्काल खत्म करने की मांग की है. 

यह भी पढ़ें

‘चूक हुई या चुनाव के मद्देनज़र बदला फैसला?’ वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के ‘यू-टर्न’ पर प्रियंका गांधी का तंज

प्रियंका गांधी ने लिखा, ‘उत्तर प्रदेश के कई जगहों से ये खबर आ रही है कि कोविड मरीजों को अस्पताल में दाखिले के लिए सीएमओ की अनुमति की आवश्यकता पड़ रही है. पहले से ही भयावह स्थिति का सामना कर रहे मरीजों के परिजनों के लिए, ये व्यवस्था भयंकर परेशानी का सबब बन गई है. हमें मिली जानकारियों के अनुसार इस प्रक्रिया के चलते मरीजों को अस्पताल में भर्ती के लिए लम्बा इंतज़ार करना पड़ रहा है और उनके परिजन एक जगह से दूसरी जगह भागदौड़ कर रहे हैं. इस व्यवस्था के चलते कई लोगों की जान भी चली गई है. आपसे अनुरोध है कि इस विषय को तत्काल संज्ञान में लें.’

आपसी प्रेम, सद्भाव और एक-दूसरे की सेवा की ख्वाहिश राजनीति में भी कायम रहे : प्रियंका गांधी

उन्होंने आगे लिखा, ‘इसी तरह की परिस्थिति ऑक्सीजन सिलिंडर के मामले में भी सामने आ रही है. मुझे बताया गया है कि ऑक्सीजन प्लांट्स और ऑक्सीजन फिलिंग केंद्रों पर बिना डीएम की अनुमति के किसी को ऑक्सीजन नहीं मिल रही. आज इसको लेकर लखनऊ के तालकटोरा आद्योगिक इलाक़े में ऑक्सीजन फैक्ट्री के बाहर एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना भी घट गई जब सिलिंडर के लिए लाइन में लगे लोग सरकारी अफसरों पर हमलावर हो गए. स्वयं आपकी सरकार ने कहा है कि कोविड संक्रमित ‘सामान्य मरीज’ (नॉन-सिरियस मरीज) होम क्वॉरंटीन में रहें. यह आप द्वारा ही सुझाया गया कदम है. सरकार के पास आज यह क्षमता नहीं है कि सभी कोविड मरीजों को अस्पताल में रख सके. ऐसे में जो मरीज होम क्वॉरंटीन हैं, यदि उनकी तबियत खराब होती है और उन्हें ऑक्सिजन की जरूरत पड़ती है तो उन्हें ऑक्सिजन कहां से मिलेगी? अस्पतालों में ऑक्सीजन युक्त बेड का पहले से ही भयानक संकट है. ऐसे में जो लोग घर पर रहकर कोविड का इलाज कर रहे हैं – उनके लिए आपके प्रशासन का यह कदम बहुत घातक है.’

EXCLUSIVE: क्या प्रियंका गांधी वाड्रा होंगी यूपी की मुख्यमंत्री उम्मीदवार? जानिए उन्होंने क्या कहा…

प्रियंका गांधी ने लिखा, ‘यह समय मुश्किल में पड़ी जनता के लिए संवेदना के साथ मदद करने का है. इस महाविपत्ति में हम सबको राजनीति से ऊपर उठकर काम करने की जरूरत है. कांग्रेस पार्टी प्रदेश की जनता साथ एकजुट है और सरकार को हर तरीके से मदद करने के लिए तैयार है.’

हक की बात करने पर किसानों को पीटा जाता है : प्रियंका गांधी



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •