कोविड-19 का पहला केस वर्ष 2019 में वुहान में ही पाया गया था (प्रतीकात्‍मक फोटो)

बीजिंग:

चीन ने कोरोनावायरस की उत्‍पत्ति (Coronavirus origin) की आगे की जांच के लिए चीनी लैब्‍स (प्रयोगशालाओं) के ऑडिट की विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) की योजना को सिरे से खारिज कर दिया है. चीन के उप स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने गुरुवार को इस योजना को लेकर तीखे शब्‍दों में कहा कि यह विज्ञान के प्रति असम्‍मान और अहंकार को दर्शाती है. झेंग यिझिन (Zeng Yixin) ने संवाददाताओं के साथ बातचीत में कहा कि WHO प्रमुख टेड्रोस अधानोम गेब्रियेसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) की इस प्रस्‍ताव से उन्‍हें बेहद हैरानी हुई है, जिसमें चीन के वुहान शहर सहित विभिन्‍न लैब्‍स की जांच की बात कही गई है. गौरतलब है कि कोविड-19 का पहला केस वर्ष 2019 में वुहान में ही पाया गया था. 

यह भी पढ़ें

भारत ने हाल ही में कोविड-19 से तबाही झेली : डोनाल्ड ट्रंप

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में इस समय कहर बरपा रखा है. इस वायरस के कारण दुनिया में अब तक 41 लाख, 26 हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. अब तक 19 करोड़ से अधिक कोरोना के मामले दुनिया में सामने आए हैं. दुनिया में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या इस समय छह करोड़ 15 लाख से अधिक है.

चीनी वैज्ञानिकों को चमगादड़ों में नए तरह के कोरोनावायरस के नमूने मिले : रिपोर्ट

गौरतलब है कि इससे पहले विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) का एक दल इसी साल फरवरी माह में चीन के वुहान (Wuhan) शहर का दौरा कर चुका है. दल के सदस्‍यों ने उस समय कहा था कि दिसंबर 2019 से पहले इस शहर में कोविड-19 वायरस (COVID-19 virus) के कोई संकेत नहीं थे. WHO के दल के प्रमुख पीटर बेन एम्‍बरेक ने वुहान लैब (Wuhan lab) के दौरे के एक दिन बाद इंटरव्‍यू में बताया था कि दौरे में हमारी कोरोना महामारी के स्रोत के साथ ही चीन के एक शहर के लैब से वायरस के लीक होने संबंधी ”दावों” के बारे में चीनी वैज्ञानिकों से विस्‍तार से बात हुई.उन्‍होंने बताया था कि बातचीत में वैश्विक मीडिया की ओर से अपनी रिपोर्ट में किए गए दावों पर भी चर्चा हुई. हालांकि उन्‍हें इस बारे में कोई पुख्‍ता जानकारी नहीं मिली.अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवन ने हाल ही में कहा था कि कोविड-19 की उत्पत्ति के बारे में जानकारी देने और पारदर्शिता बनाए रखने के लिए वह अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर चीन पर दबाव बनाना जारी रखेगा. सुलिवन के कहा कि इसके साथ ही अमेरिका अपने स्तर पर समीक्षा एवं प्रक्रिया को भी जारी रखेगा. 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here