कानपुर : महिला को एक साथ दी गईं कोरोना टीके की दोनों खुराकें, अधिकारियों ने किया इनकार

0


परिवार के सदस्यों का कहना है कि दोहरी खुराक के कारण कमलेश के हाथ में हल्की सूजन आ गई (फाइल फोटो)

कानपुर:

कानपुर देहात जिले के मंडौरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एक महिला को कोविड-19 के दोनों टीके एक ही साथ लगाए जाने की खबर से पैदा हुए विवाद के बीच अधिकारियों ने दावा किया है कि टीके की केवल एक खुराक दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि टीका लगवाने वाली महिला की हालत स्थिर है. ऐसी खबरें थीं कि एक नर्स ने कथित तौर पर मोबाइल पर बात करते हुए एक महिला को कोविड-19 टीके की दोनों खुराक दे दी हैं. अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि तकनीकी रूप से दो खुराक दिए जाना संभव नहीं है क्योंकि इसकी प्रक्रिया लंबी है और फोन पर बात करते हुए कोई ऐसा नहीं कर सकता है. कानपुर देहात के मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी (सीएमओ) राजेश कटियार ने ”पीटीआई-भाषा” को बताया कि चिकित्सा अधीक्षक आईएच खान ने महिला कमलेश कुमारी से पूछताछ की जिसमें उसने कोविड टीके की दोनों खुराक लगाने की बात से इनकार कर दिया है.

यह भी पढ़ें

हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्करों के कोरोना वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण कराने पर रोक, केंद्र का फैसला

उन्होंने कहा कि यह बहुत चौंकाने वाला था कि कोई भी स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी एक समय में कैसे टीके की दो खुराक दे सकता है. यह पूछे जाने पर कि महिला कमलेश कुमारी ने पत्रकारों के सामने यह क्यों कहा कि उनको टीके की दो खुराक दी गई हैं, सीएमओ ने कहा कि महिला ने लिखित में दिया है कि उसे केवल एक खुराक दी गई थी और जल्द ही मीडिया के साथ भी लिखित स्पष्टीकरण साझा किया जाएगा. हालांकि इस संदर्भ में महिला और उसके परिजनों से बातचीत नहीं हो सकी.

यूपी पुलिस ने हरिद्वार कुंभ मेले की व्यवस्था के लिए RSS को पत्र लिखकर मांगी मदद

बृहस्पतिवार को जब महिला के परिवार के सदस्यों को यह खबर मिली कि उसे कोविड-19 की दो खुराकें दी गई हैं तो परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया. परिजनों ने पत्रकारों को बताया कि बृहस्पतिवार को कमलेश कुमारी टीके की खुराक लेने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गई थीं जहां एएनएम ने उन्हें मोबाइल पर बातचीत करते हुए टीके की दोनों खुराक लगा दीं. परिजनों का आरोप है कि जब दो बार टीका लगाये जाने पर कमलेश ने नर्स को टोका तो उसने माफी मांगने के बजाय उसे फटकार लगाई. परिवार के सदस्यों का कहना है कि दोहरी खुराक के कारण कमलेश के हाथ में हल्की सूजन आ गई हालांकि कोई गंभीर लक्षण नहीं दिखा. जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने फोन पर ”पीटीआई-भाषा” को बताया कि उन्होंने सीएमओ को घटना की जांच करने और तथ्यों की पड़ताल करने के निर्देश दिये हैं. इस मामले में रिपोर्ट तलब की गई है.

Video: बेकाबू होती कोरोना की दूसरी लहर, पिछले 24 घंटे में इस साल के सर्वाधिक नए मामले दर्ज

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

  •  
  •  
  •  
  •  
  •